All Categories


Pages


PHOTOS: दुनिया की 10 ख़ूबसूरत और आलीशान मस्जिदें

मस्जिद मुस्लिम समुदाय के लिए वह पाक मुकाम है जिसमें वे अल्लाह की इबादत करते हैं। मस्जिद सिर्फ पवित्र इबादतगाह ही नहीं, बल्कि मुस्लिम वास्तुकारों की बेहतरीन वास्तुकारी के उदाहरण भी हैं। दुनिया के लगभग सभी देशों में बेहतरीन मस्जिदें हैं, लेकिन इन्हें विश्व की 10 सर्वाधिक खूबसूरत मस्जिद माना जाता है। अल हरम मस्जिद दुनिया की सबसे बड़ी मस्जिद है जबकि मस्जिद अल नबवी मदीना में है जिसे पैगम्बर की मस्जिद भी कहते है। इस मस्जिद का निर्माण पैगम्बर मोहम्मद के द्वारा करवाया गया था। यह मस्जिद दुनिया की दूसरी सबसे बड़ी मस्जिद है।

1. मक्‍का की अल हराम मस्‍जिद सबसे पहले नंबर पर आती है। इस्‍लाम के सबसे पवित्र स्‍थान काबा में स्‍थित ये मस्‍जिद आकार में विश्‍व की सबसे बड़ी मस्‍जिद में शुमार की जाती है। मान्‍यता है कि इंसान के लिए अल्‍लाह को याद करने और उसकी इबादत करने के लिए इसे सबसे पहले बनाया गया था।

2. मदीना में स्‍थित मस्‍जिद ए नबवी को पैगंबर की मस्जिद भी कहा जाता है। इस मस्‍जिद को पैगंबर मोहम्‍मद (सल्ल।) ने बनवाया था। मदीना मुस्लिम समुदाय के लोगों का दूसरा सबसे पवित्र स्थल माना जाता है। ये दुनिया में अल हराम मस्‍जिद के बाद दूसरी सबसे बड़ी मस्‍जिद है।


3. येरुशलम में मुस्लिम समुदाय का तीसरा सबसे पवित्र स्‍थान है। इसे अल अक्‍सा या बैत अल मुक्‍कदस के नाम से जाना जाता है।

 


4. मोरक्‍को के कासाब्‍लांका में बनी है हसन II मस्‍जिद। ये इस देश में बनी सबसे बड़ी और विश्‍व की सातवीं सबसे बड़ी मस्‍जिद है। इसका 60 मंजिल जितना 210 मीटर ऊंचा मीनार विश्‍व में सबसे ऊंचा हैं और यह वर्ष 1993 में बनी थी। इसकी मीनार पर लेज़र लाइट लगी है जो मक्‍का की ओर इशारा कर रही हैं।


5 . ब्रुनेई में स्‍थित सुल्‍तान उमर अली सैफुद्दीन मस्‍जिद एक शाही मस्‍जिद है जिसे ब्रुनेई के सुल्‍तान ने बनवाया था और ये विश्‍व की सबसे खूबसूरत मस्‍जिद कही जाती है। पूरे विश्‍व से पर्यटक इसे देखने ब्रुनेई आते हैं।


6 . जहीर मस्‍जिद केदाह की राजकीय मस्‍जिद है। मलेशिया के केदाह में राजधानी अलोर स्‍टार के मध्‍य में स्‍थित है। ये मलेशिया की सबसे पुरानी और विशालकाय मस्‍जिद है। इसका र्निमाण वर्ष 1912 में किया गया था।

 


7 . पाकिस्‍तान के इस्‍लामाबाद में स्‍थित फैसल मस्‍जिद दक्षिण एशिया की एकमात्र और विश्‍व की चौथी सबसे विशाल मस्‍जिद है।

 


8 . भारत के भोपाल में बनी ताज उल मस्‍जिद है जिसका अर्थ मस्‍जिदों का ताज होता है। दिन में इस मस्‍जिद का उपयोग मदरसे के रूप में भी होता है। ये एशिया की सबसे बड़ी मस्‍जिदों में एक है। गुलाबी रंग की इस मस्‍जिद में दो अष्‍टकोणीय मीनार हैं।

 


9 . लाहौर की शाही मस्‍जिद बादशाही मस्‍जिद कहलाती है। इसे 1671 में मुगल शहंशाह औरंगजेब ने बनवाना शुरू किया था और 1673 में ये बन कर तैयार हुई थी। ये विश्‍व की पांचवी और दक्षिण एशिया की दूसरी सबसे बड़ी मस्‍जिद है। मस्जिद में करीब 55000 नमाजी एक साथ नमाज़ पढ़ सकते हैं।

 


10. केंपांग के ग्‍लैम रोचोर जिले में नॉर्थ ब्रिज रोड की मस्‍कत स्‍ट्रीट में बनी सुल्‍तान मस्‍जिद सिंगापुर की सबसे महत्‍वपूर्ण मस्‍जिद कही जाती है। 14 मार्च 1975 को इसे सिंगापुर का राष्ट्रीय स्मारक घोषित कर दिया गया।




About the Author

Administrator

Comments


No comments yet! Be the first:

Your Response



Most Viewed - All Categories


Daily Khabarnama Daily Khabarnama