All Categories


Pages


अमेरिकी दबाव में इस्राईल को नस्ल भेदी बताने वाली रिपोर्ट को वापस लेने का आदेश

लेबनानी टीवी चैनल अलमयादीन ने खबर प्रसारित की है कि संयुक्त राष्ट्र संघ ने अपने उस रिपोर्ट को वापस लेने का फैसला किया है जिसमें इज्राईल को एक नस्लप्रस्त देश कहा गया था। चैनल के मुताबिक, संयुक्त राष्ट्र संघ के महासचिव एंटोनियो गुटेरेश ने पश्चिमी एशिया के सामाजिक एंव आर्थिक आयोग से अपने इस रिपोर्ट को वापस लेने का आदेश दिया है। 

खबर के अनुसार, एंटोनियो गुटेरेश ने अमरीका और इस्राईल के दबाव के चलते इस रिपोर्ट को हटाने का आदेश दिया है। बता दें कि संयुक्त राष्ट्र संघ में पश्चिमी एशिया के आर्थिक एंव सामाजिक आयोग  यूएईएससीडब्ल्यूए ने बुधवार को अपनी एक रिपोर्ट दी थी। इस रिपोर्ट में यूएईएससीडब्ल्यूए ने कहा था कि इस्राईल एक नस्लभेदी अपराधी है और वो फिलिस्तीनियों के खिलाफ नस्लभेदी कार्यवायी करता है।

इस रिपोर्ट के प्रकाशित होने के बाद अमरीका ने संयुक्त राष्ट्र संघ के महासचिव से कहा था कि वह इस रिपोर्ट को हटाने का आदेश दें। वहीं संयुक्त राष्ट्र संघ के की तरफ से इस रिपोर्ट को आयोग की वेबसाइट से हटाने के आदेश के बाद, पश्चिमी एशिया के आर्थिक एंव सामाजिक आयोग की कार्यकारी सचिव सीमा खलफ ने अपने पद से इस्तीफा दे दिया है।

उन्होंने अपने त्यागपत्र की वजह इस रिपोर्ट को वापस लेने के लिए दबाव बनाना बताया है। गौरतलब है कि इससे पहले कभी भी इस्राईल को किसी अंतरराष्ट्रीय संगठन या संस्था की ओर से औपचारित रूप से नस्लभेदी शासन नहीं कहा गया था।

 

दूसरी महासचिव ने इस रिपोर्ट को वापस लेने के अलावा हिज्बुल्लाह को निशस्त्र करने को भी कहा है। उन्होंने हिज्बुल्लाह और लेबनान के दूसरे गुटों से मांग की है कि वह सीरिया में जारी लड़ाई में भाग लेना बंद करें।




About the Author

Administrator

Comments


No comments yet! Be the first:

Your Response



Most Viewed - All Categories


Daily Khabarnama Daily Khabarnama