All Categories


Pages


हॉलीवुड स्टार के साथ ऑस्कर में रेड कारपेट पर छाया बीएमसी सफाई कर्मचारी का बेटा

मुंबई के कलिना की एक छोटी बस्ती से निकले 8 साल के सनी पवार ने 89वें ऑस्कर समारोह के रेड कारपेट पर पहुंच साबित कर दिया की हुनर उम्र या अमीर-गरीब नहीं देखता। ऑस्कर में पहुंचे सनी ने देश का नाम रोशन तो किया ही,साथ ही लोगों के लिए ये सन्देश भी दिया है कि हुनर और हौंसला साथ मिल जाए तो किसी भी उम्र में आप अपना मुकाम पा सकते हैं। 

मुंबई के स्लम ने निकले सनी आज इंटरनेशनल स्टार बन चुके हैं। ऑस्कर समारोह के दौरान सनी हॉलीवुड की कई मशहूर हस्तियों के साथ मस्ती करते नजर आये। पूरी दुनिया ने सनी पवार की क्यूट हरकतें टीवी पर देखी। एक गरीब परिवार से आने वाले सनी कैसे पहुंच गए ऑस्कर में, जानिये उनके कामयाबी की कहानी-

सनी पवार के पिता दिलीप पवार बीएमसी में सफाई कर्मचारी हैं जोकि प्रति माह 10 हजार कमाते हैं और सनी के दादा ने 40 साल तक शिवसेना की राजनीति की है। माँ घर चलाती हैं। सनी गर्वमेंट एयर इंडिया मॉडर्न स्कूल में पढ़ाई करते हैं और एक दिन इस स्कूल में हॉलीवुड फिल्म ‘लॉयन’ की कास्ट‍िंग के लिए टीम बच्चों का ऑडिशन लेने पहुंची थी।

ऑडिशन के दौरान उन्हें सनी की एक्टिंग बहुत पसंद आई और उन्हें फिल्म ‘लायन’ में सरू के रोल के लिए चुन लिया गया। आपको बता दें कि इस रोल के ऑडिशन में सनी ने दो हजार से भी ज्यादा बच्चों को पीछे छोड़ा है। सनी के हॉलीवुड फिल्म में एक्टिंग करने की बात सुनकर उनके घरवाले बहुत ही भावुक हो उठे।

परिवार वाले खुश तो थे लेकिन कुछ सहमे भी हुए थे कि सनी ये सब मैनेज कैसे कर पायेगा। सनी को बचपन से ही एक्टिंग का बहुत शौंक था और वह अक्सर फिल्मों में काम करने के सपने देखते थे। लेकिन घर वाले हमेशा उन्हें समझाते कि हमारी और उनकी दुनिया बहुत अलग है। वहां पहुंचने का कोई रास्ता हमारे पास नहीं है।

लेकिन इतना लंबा सफर अपने हुनर और हौंसले के बलबूते इतनी जल्दी तय करते हुए शनी ने अपने जैसे स्लम में रहने वाले उन बच्चों को ये सन्देश दिया है कि सपने देखना न छोड़े।




About the Author

Administrator

Comments


No comments yet! Be the first:

Your Response



Most Viewed - All Categories


Daily Khabarnama Daily Khabarnama