All Categories


Pages


1100 करोड़ की लागत से बनी यूरोप की सबसे बड़ी मस्जिद, पढ़िए कुछ दिलचस्प बातें

रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने यूरोप की सबसे बड़ी मस्जिद का उद्घाटन रूस की राजधानी मास्को में किया। द मास्को कै‌थेड्रल मस्जिद को बनने में दस साल का समय लगा है।

इस मस्जिद को बनाने में 1100 करोड़ रुपए से अधिक का खर्चा आया है। इस मस्जिद को बनाने के लिए इतना पैसा प्राइवेट फंडिंग के जरिए जुटाया गया।

पुतिन का इस मस्जिद के उद्घाटन समारोह में जाना इसलिए भी महत्वपूर्ण हो गया है क्योंकि वर्ष 1999 में सत्ता में आने के बाद से ही मुस्लिम विद्रोहियों के विरोध का सामना करना पड़ा है।

इस मौके पर पुतिन ने कहा कि रूस के मुस्लिम नेता बहुत ही बहादुरी के साथ चरमपंथियों के प्रोपेगेंडा का विरोध कर रहे हैं। मैं उन सभी लोगों के लिए सम्मान प्रकट करता हूं जिन्होंने देश के लिए बहुत ही बहादुरी का काम किया है।

आपको बताते चले कि रूस में इस्लाम धर्म को मानने वाले लोगों की संख्या 2.3 करोड़ है। अधिकतर मुस्लिम देश के उत्तरी काउकेशियन रिपब्लिक्स में रहते हैं। करीब 20 लाख मुस्लिम मास्को में रहते हैं।

यह मस्जिद वर्ष 1904 में बनी थी लेकिन इसका आकार काफी छोटा था। वर्ष 2011 में इसे गिरा दिया गया और इसके स्‍थान पर बड़ी मस्जिद को बनाया गया। इस मस्जिद में एक साथ 10,000 लोग बैठकर नमाज पढ़ सकते हैं।




About the Author

Administrator

Comments

Masood alam August 29, 2016 Reply

Masa allaha


Your Response



Most Viewed - All Categories


Daily Khabarnama Daily Khabarnama